Thursday, July 18, 2024
spot_img
spot_img
03
20x12krishanhospitalrudrapur
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यदिल्लीआज से शुरू होगा 18 वीं लोकसभा का पहला सत्र, प्रधानमंत्री नरेन्द्र...

आज से शुरू होगा 18 वीं लोकसभा का पहला सत्र, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संसद पहुंचे

एफएनएन, नई दिल्ली: 18 वीं लोकसभा का पहला सत्र आज 11 बजे शुरू होगा. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित संसद के नये चुने गये सदस्य सबसे पहले सदस्यता की शपथ लेंगे. पहला सत्र ही काफी हंगामेदार रहने की आशंका है. विपक्ष 26 जून को स्पीकर के चुनाव पर भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार को घेरने की कोशिश करेगा. नीट-यूजी और यूजीसी-नेट में पेपर लीक के आरोपों से लेकर प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति तक पर विवाद रहा.

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू में भारतीय जनता पार्टी के कानूनविद भार्टुहरि महताब को लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ दिलाई. महताब तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा के नेता, सदन के सदस्य के रूप में शपथ लेने के लिए कहेंगे. 26 जून को, लोकसभा अध्यक्ष चुना जाएगा. 27 जून को, राष्ट्रपति द्रौपदी मुरमू को संसद के दोनों सदनों के संयुक्त बैठे को संबोधित करने के लिए निर्धारित किया गया है. यह 18 वीं लोकसभा का पहला सत्र है, जिसमें नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस (एनडीए) ने 293 सीटों को सुरक्षित किया और भारत ब्लॉक ने 234 को कांग्रेस के साथ जीत हासिल की.

WhatsApp Image 2023-12-18 at 2.13.14 PM

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संसद पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज 18वीं लोकसभा के पहले सत्र की शुरुआत से पहले संसद पहुंचे.

कांग्रेस सांसद जयराम रमेश दिल्ली में संसद भवन पहुंचे

कांग्रेस सांसद जयराम रमेश दिल्ली में संसद भवन पहुंचे.

भाजपा सांसद भर्तृहरि महताब संसद के लिए रवाना हुए

18वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किए गए भाजपा सांसद भर्तृहरि महताब संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू और अन्य पार्टी नेताओं के साथ दिल्ली स्थित अपने आवास से रवाना हुए. 18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू होगा.

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति कोई मुद्दा

संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि मैंने सभी नेताओं से मुलाकात की. अभी-अभी मैंने डीएमके संसदीय दल के नेता टीआर बालू से मुलाकात की. सभी इस बात पर सहमत हैं कि भारतीय संसद के इतिहास में प्रोटेम स्पीकर कभी कोई मुद्दा नहीं रहा और प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति मूल रूप से नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाने और नए अध्यक्ष के चुनाव में मदद करने के लिए होती है.

केंद्रीय मंत्री अठावले ने जाति जनगणना की वकालत की

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा है कि उनकी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) देश में जाति जनगणना कराने का समर्थन करती है. उन्होंने कहा कि उनका मानना ​​है कि इसके लिए कोई रास्ता निकाला जाना चाहिए. रविवार को मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में पत्रकारों से बात करते हुए अठावले ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट) में कोई गड़बड़ी नहीं होनी चाहिए. शिक्षा मंत्रालय भविष्य में परीक्षा में गड़बड़ी रोकने के लिए हर संभव कदम उठा रहा है.

उन्होंने कहा कि चूंकि संविधान के अनुच्छेद 17 में जातिवाद को खत्म करने का प्रावधान है, इसलिए सरकारों के सामने जाति आधारित जनगणना कराने में बाधा आ रही है. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री ने कहा कि मेरी पार्टी मांग करती है कि कोई रास्ता निकाला जाना चाहिए क्योंकि एक बार जाति आधारित जनगणना हो जाने के बाद हमें पता चल जाएगा कि आबादी में हर जाति का प्रतिशत कितना है.

किरेन रिजिजू ने कहा कि संसद चलाने के लिए समन्वय की उम्मीद

एक्स पर एक पोस्ट में, रिजिजू ने कहा कि वह संसदीय कार्य मंत्री के रूप में संसद सदस्यों की सहायता के लिए हमेशा उपलब्ध रहेंगे. रिजिजू ने अपने पोस्ट में कहा कि 18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज, 24 जून, 2024 को शुरू हो रहा है. मैं सभी नवनिर्वाचित माननीय सदस्यों का स्वागत करता हूं. मैं संसदीय कार्य मंत्री के रूप में सदस्यों की सहायता के लिए हमेशा उपलब्ध रहूंगा. मैं सदन चलाने के लिए समन्वय की उम्मीद करता हूं.

सत्र शुरू होने से पहले समाजवादी पार्टी ने बुलायी बैठक

सूत्रों ने बताया कि समाजवादी पार्टी (सपा) लोकसभा चुनाव 2024 के समापन के बाद पहले संसद सत्र की शुरुआत से पहले आज सुबह 10 बजे दिल्ली में संसद भवन स्थित संसदीय दल कार्यालय में अपने सांसदों की एक महत्वपूर्ण बैठक बुलायी है. बैठक पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की अध्यक्षता में होगी.

संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू अपने आवास से रवाना हुए

18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू होगा. संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू अपने आवास से रवाना हुए.

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments