Saturday, July 20, 2024
spot_img
spot_img
03
20x12krishanhospitalrudrapur
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यउत्तराखंडउत्तराखंड की सृष्टि मिश्रा ने कैंसर पीडितों के लिए किया 'महादान', हेयर...

उत्तराखंड की सृष्टि मिश्रा ने कैंसर पीडितों के लिए किया ‘महादान’, हेयर डोनेट कर पेश की मिसाल

एफएनएन, श्रीनगर: लंबे काले, घने और खूबसूरत बाल, हर किसी लड़की का सपना होता है. इस सपने को पूरा करने लिए लड़कियां, महिलाएं कई तरह के प्रोडक्स का इस्तेमाल करती हैं. लंबी खूबसूरत जुल्फों के लिए हजारों रुपये खर्च कर देती हैं, मगर क्या आप यकीन करेंगे की एक कॉलेज पढ़ने वाली लड़की ने अपनी खूबसूरती को ही कैंसर पीड़ितों के लिए दान कर दिया. जी हां, गढ़वाल विवि में पढ़ने वाली सृष्टि मिश्रा ने अपने 14 इंच लंबे बाल कैंसर पीड़ितों के लिए दान कर दिये हैं. सृष्टि के इस फैसले को विवि की छात्राओं के साथ ही शिक्षक भी सराह रहे हैं.

मूल रूप से यूपी के सुल्तानपुर जिले के लोदीपुर गांव की रहने वाली सृष्टि गढ़वाल केंद्रीय विवि में बीए की छात्रा है. सृष्टि मिश्रा अलकनंदा छात्रावास में रहती हैं. सृष्टि मिश्रा ने बताया एक दिन उन्होंने कैंसर के ईलाज कीमो थेरेपी के बारे में एक आर्टिकल पढ़ा. तब उन्हें कैंसर मरीजों के हेयर लॉस के बारे में पता चला. जिसके बाद उन्होंने हेयर डोनेशन का मन बनाया. इसके बाद उन्होंने इंडियन कैंसर सोसायटी के संपर्क किया.

WhatsApp Image 2023-12-18 at 2.13.14 PM

उन्होंने ऑनलाइन बाल डोनेट करने के लिए आवेदन किया. बालों की गुणवत्ता बेहतर होने के बाद 9 जून को उन्होंने श्रीनगर के एक सलून में बाल कटवाये. जिसके बाद कटे हुए बालों को स्पीड पोस्ट के माध्यम से बैंगलोर भेजा. बाल कटवाने के बाद शुरूआती दिनों में उन्होंने दुपट्टे से सिर को ढ़का. इस बीच उनके साथियों ने उनकी हौंसलाफजाई की, उनका आत्मविश्वास बढ़ाया. जिसके बाद सृष्टि मिश्रा ने खुलकर इस बारे में बात करना शुरू किया.

Srishti Mishra hair donation

सृष्टि मिश्रा ने बताया अभी तक उन्होंने अपने पिता को इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है. मां को बाल डोनेट करने से पूर्व फोन कर सारी बात बता दी थी. उनकी मां ने भी बेटी के इस कदम को सराहा है. बाल डोनेट के फैसले पर सृष्टि मिश्रा कहती हैं ‘समाज ने जो खूबसूरती के मानक तैयार किए हैं इससे ऊपर उठकर मैंने यह फैसला लिया है. बाल दोबारा आ सकते हैं, अगर मेरे बाल डोनेट करने से किसी के चेहरे पर खुशी आती है तो यह मेरे लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है’.हेयर डोनेट करने के बाद सृष्टि मिश्रा ने बताया मेरी दोस्त स्वाति भी मेरे इस फैसले से काफी प्रेरित हुई हैं. उन्होंने भी इस तरह का कार्य करने का वादा किया है. सृष्टि को देखकर उनके साथ कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं ने भी प्रेरणा ली है. छात्राओं का कहना है सभी को इसी तरह से लोगों की मदद के लिए आगे आना चाहिए.

Srishti Mishra hair donation

बता दें कैंसर के इलाज के चलते पीड़ितों के बाल उड़ जाते हैं. जिसके कारण कैंसर पीड़ित डिप्रेस हो जाते हैं. जिसके कारण लोग डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं. ऐसे में कैंसर रोगियों को डिप्रेशन से बचाने के लिए विग की मुहिम शुरू की गई. दान किये गये बालों से विग तैयार की जाती है. जिसे कैंसर रोगियों और जरूरतमंदों को दिया जाता है.

Srishti Mishra hair donation

हेयर डोनेशन के लिए जरूरी बातें

  • हेयर डोनेशन के लिए बालों की लंबाई का खास ख्याल रखा जाता है. इसके लिए बालों की लंबाई कम से कम दस इंच होनी चाहिए.
  • बालों का कोई हार्ड कैमिकल ट्रीटमेंट न हुआ हो, न ही वो ब्लीच किए गए हों
  • ज्यादा सफेद बाल वाले लोग भी हेयर डोनेट नहीं कर सकते.

ये भी पढ़ेंः- अवैध निर्माण पर एमडीडीए की कार्रवाई, रिस्पना नदी के किनारे बने 59 घरों को तोड़ा गया

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments