Monday, July 15, 2024
spot_img
spot_img
03
20x12krishanhospitalrudrapur
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeअंतरराष्ट्रीय...तो यूएन में भी नेपाल की ‘चाल’ होगी नाकाम

…तो यूएन में भी नेपाल की ‘चाल’ होगी नाकाम

एफएनएन, नई दिल्लीः भारत और नेपाल के बीच बढ़ते तनाव के बीच वार-पलटवार का सिलसिला लगातार जारी है। विवाद के बीच नेपाल सरकार ने कहा है कि वह मध्य अगस्त तक विवादित नक्शे को भारत, संयुक्त राष्ट्र संघ व अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भेजेगी। लेकिन नेपाल की यह चाल कमायाब होती नजर नहीं आ रही है। संशोधित नक्शे में नेपाल ने भारतीय क्षेत्र लिंप्युधारा, लिपुलेख और कालापानी पर अपना दावा किया है। लेकिन नेपाल का यह मंसूबा कामयाब नहीं होगा। क्योंकि यूएन की ओर से जारी होने वाले नक्शों में एक डिस्क्लेमर भी होता है। इस डिस्क्लेमर में साफ लिखा होता है कि इस नक्शे में उपयोग किए गए पदनाम, सीमाओं और नामों को संयुक्त राष्ट्र आधिकारिक तौर पर समर्थन या स्वीकृति नहीं देता है।

nepal1

संशोधित मानचित्र किया था जारी

नेपाल की केपी शर्मा ओली के नेतृत्व वाली सरकार ने 20 मई को संशोधित राजनीतिक प्रशासनिक मानचित्र जारी किया था। संसद द्वारा विवादास्पद मानचित्र को पारित करने के बाद सरकार अब अपने संशोधित मानचित्र को अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भेजने की तैयारी में है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments