Wednesday, February 28, 2024
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
03
Krishan
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यउत्तराखंडविश्व विकलांग दिवस पर दिव्यांगों को सीएम धामी की बड़ी सौगात,राज्य दक्षता...

विश्व विकलांग दिवस पर दिव्यांगों को सीएम धामी की बड़ी सौगात,राज्य दक्षता पुरस्कार में अब मिलेंगे आठ हजार रुपये

एफएनएन,देहरादून : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि दिव्यांगजनों को राज्य स्तरीय दक्षता पुरस्कार के रूप में दी जाने वाली धनराशि पांच हजार से बढ़ाकर आठ हजार रुपये की जाएगी।

 

साथ ही सहायक यंत्र/उपकरण के लिए कृत्रिम अंग अनुदान की धनराशि 3500 से बढ़ाकर सात हजार रुपये की जाएगी। यह घोषणाएं मुख्यमंत्री ने शनिवार को विश्व दिव्यांग दिवस पर सुभाष रोड स्थित लार्ड वेंकटेश्वर हाल में समाज कल्याण विभाग की ओर से आयोजित राज्य स्तरीय दक्षता पुरस्कार समारोह में कहीं।

 

  • 32 दिव्यांगजनों को पांच-पांच हजार रुपये, प्रशस्ति पत्र व मेडल दिए

मुख्यमंत्री ने समारोह के दौरान राज्य स्तरीय दक्षता पुरस्कार स्वरूप 32 दिव्यांगजनों को पांच-पांच हजार रुपये, प्रशस्ति पत्र व मेडल प्रदान किए। जिसमें 10 उत्कृष्ट दिव्यांग कर्मचारी, 11 दक्ष दिव्यांग खिलाड़ी, 10 स्वरोजगार करने वाले दिव्यांगजन व एक सेवायोजक अधिकारी शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने दिव्यांगजनों के बीच जाकर उनका हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि सभी सकारात्मक सोच एवं दृढ़ संकल्प के साथ आगे बढे़ं, तो सब कुछ संभव है।

 

उन्होंने कहा कि दक्ष दिव्यांग कर्मचारियों, उनके सेवायोजकों, स्वरोजगार करने वाले दिव्यांग व दिव्यांग सेवायोजक अधिकारियों को वृद्धावस्था पेंशन योजना की तरह दिव्यांग पेंशन योजना को सरलीकृत किया जाएगा। ऐसे समस्त दिव्यांग भी पेंशन के लिए पात्र होंगे, जिनके पुत्र/ पौत्र 20 वर्ष से अधिक आयु के हों।

 

दिव्यांगजनों को बोर्ड परीक्षाओं में न्यूनतम उत्तीर्ण अंक में पांच प्रतिशत की छूट दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार सेवा और सहयोग के भाव के साथ दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए प्रयासरत हैं। प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व में दिव्यांगजनों को सामाजिक और आर्थिक दोनों क्षेत्रों में समानता का अधिकार दिलाने के लिए निरंतर कार्य हो रहे हैं।

 

  • कमजोर दिव्यांगजनों को 1500 रुपये मासिक पेंशन

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने दिव्यांगजनों के कल्याणार्थ वर्ष 2022-23 के बजट में 155 करोड़ रुपये का प्रविधान किया है। आर्थिक रूप से कमजोर दिव्यांगजनों को 1500 रुपये मासिक पेंशन दी जा रही है। दिव्यांग बच्चों के अभिभावकों को प्रतिमाह 700 रुपये का अनुदान भरण-पोषण के लिए दिया जा रहा है। सरकारी नौकरियों में भी दिव्यांगजनों के लिए क्षैतिज आरक्षण तीन से बढ़ाकर चार प्रतिशत किया गया है।

प्रत्येक जनपद में जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र के माध्यम से दिव्यांगजनों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। दिव्यांग से विवाह करने पर प्रोत्साहन के रूप में 25 हजार रुपये की धनराशि दी जा रही है। इस अवसर पर महापौर सुनील उनियाल गामा, राजपुर रोड विधायक खजानदास, भाजपा के महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ उमेश अग्रवाल, प्रमुख सचिव समाज कल्याण एन. फैनई, निदेशक समाज कल्याण बीएल फिरमाल आदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments