Tuesday, June 18, 2024
spot_img
spot_img
03
20x12krishanhospitalrudrapur
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यउत्तराखंड...जब 17 किमी पहाड़ी रास्तों पर पैदल चल सीमांत गांव पहुंचे डीएम

…जब 17 किमी पहाड़ी रास्तों पर पैदल चल सीमांत गांव पहुंचे डीएम

एफएनएन, देहरादून: टिहरी जिले के डीएम मंगेश घिल्डियाल पहाड़ी रास्तों पर 17 किमी पैदल चल सीमांत गांव गंगी पहुंचे। डीएम के पैदल गांव पहुंचने की बात सुनकर ग्रामीण हैरान रह गए। डीएम ने गांव पहुंचकर आपदा से हुए नुकसान का जायजा लिया। ग्रामीणों ने आपदा से क्षतिग्रस्त हुए रास्तों, पैदल पुलों और विद्यालय भवन का जल्द निर्माण करने की मांग उठाई। डीएम ने पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को तीन माह से यातायात के लिए बंद पड़ी घुत्तू-रीह-गंगी सड़क जल्द खोलने के निर्देश दिए।

ग्रामीणों ने बताई आपदा को लेकर समस्याएं

गांव वालों ने आपदा से क्षतिग्रस्त सड़कों, पुलों एवं स्कूल भवनों के जल्द निर्माण की मांग उठाई। 10 अगस्त को भारी बारिश की वजह से भिलंगना ब्लॉक के सीमांत गंगी गांव में बहुत नुकसान हुआ था जैसे पेयजल लाइन, घाट, संपर्क मार्ग भी क्षतिग्रस्त हो गए थे, गांव के बीच में बाढ़ के कारण दस घर आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए उसके अलावा तीन गोशाला ढहने से 15 जानवर भी मलबे में दबकर जिंदा दफन हो गए थे।

घुत्तू-रीह-गंगी सड़क जल्द खोलने के निर्देश

हालाँकि डीएम मंगेश घिल्डियाल ने पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को बंद पड़ी यातायात घुत्तू-रीह-गंगी सड़क जल्द खोलने के निर्देश दिए जो तीन माह से बंद पड़ी थी। पीएमजीएसवाई ने सोमवार से सड़क पर काम शुरू कर दिया है। डीएम ने बताया कि आपदा से प्रभावित सभी परिवारों को मुआवजा राशि पहले ही दी जा चुकी है और जल्द ही अन्य सुविधाएं सुचारू हो जाएंगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments